Uncategorizedछत्तीसगढ़

कोरबा में महिलाओं एवं बच्चों के विरूद्ध घटित समस्त अपराधों को अत्यंत गंभीरता एवं संवेदनशीलता के साथ लेकर प्रत्येक प्रकरणों का त्वरित निराकरण किया जा रहा है जिसके लिये पुलिस अधीक्षक अभिषेक मीणा के दिशा-निर्देश

Advertisement

कोरबा 29 नवम्बर। कोरबा में महिलाओं एवं बच्चों के विरूद्ध घटित समस्त अपराधों को अत्यंत गंभीरता एवं संवेदनशीलता के साथ लेकर प्रत्येक प्रकरणों का त्वरित निराकरण किया जा रहा है जिसके लिये पुलिस अधीक्षक अभिषेक मीणा के दिशा-निर्देश

में तथा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एवं नोड्ल अधिकारी कीर्तन राठौर के मार्गदर्शन में विगत दिनों थाना उरगा, चौकी मानिकपुर एवं थाना कोतवाली में बच्चों के विरूद्ध घटित अपराधों में त्वरित कार्यवाही करते हुए आरापियों के विरूद्ध तीन दिवस के भीतर ही आरोप पत्र प्रस्तुत किया गया है, इसी प्रकार जिला पुलिस कोरबा द्वारा बालक बालिकाओं के गुम होने संबंधी प्रत्येक प्रकरणों को अत्यंत संवेदनशील मानते हुए सभी प्रकरणों में त्वरित कार्यवाही किया जा रहा है, इस दौरान आज दिनांक तक जिला इकाई कोरबा अंतर्गत के सभी थाना चौकियों में गुम हुए 17 बालक एवं 76 बालिकाओं कुल 93 बच्चों में से 17 बालक सहित कुल 22 एवं 72 बालिका सहित कुल 78 बालिकाओं दोनों मिलाकर 100 बच्चों को खोजकर उनको वापस सकुशल उनके माता-पिता तक पहुंचाने में कोरबा पुलिस द्वारा महत्वपूर्ण सफलता इस वर्ष अर्जित किया गया है, उपरोक्त नाबालिक बच्चों में से 20 बच्चों को छ 0 ग 0 राज्य के बाहर अन्य राज्य जिसमें मध्यप्रदेश से 06 बच्चे, हरियाणा से 02 बच्चे, गुजरात से 02 बच्चे, जम्मू-कश्मीर से 02 बच्चे, उड़ीसा से 01 बच्चे, पश्चिम बंगाल से 02 बच्चे, राजस्थान से 02 बच्चे, आंध्रप्रदेश से 02 बच्चे, चण्डीगढ़ से 01 बच्चे को सकुशल पुलिस टीम कोरबा द्वारा बरामद किया गया है। इसी प्रकार बालको के विरूद्ध दर्ज लैंगिक अपराधों के प्रकरणों में पुलिस के संज्ञान में आने पर त्वरित कार्यवाही करते हुए जिले के समस्त थाना चौकियों द्वारा अब तक 56 प्रकरणों में 65 आरोपियों को गिरफ्तार करने में महत्वपूर्ण सफलता प्राप्त किया गया है तथा वर्ष 2020 में कोरबा पुलिस टीम द्वारा 209 गुम महिलाओं को विभिन्न छत्तीसगढ़ राज्य के बाहर विभिन्न राज्यों से सकुशल दस्तयाब करने में महत्वपूर्ण सफलता प्राप्त किया गया है। इस प्रकार जिला पुलिस कोरबा महिलाओं एवं बच्चों के विरूद्ध घटित अपराध एवं प्राप्त शिकायतों के त्वरित एवं संवेदन शीलता के साथ निराकरण करने के लिये प्रतिबद्ध है तथा महिला परामर्श कोरबा द्वारा लगातार इस दिशा में कार्यवाही की जा रही है।

Related Articles

Back to top button