Saturday, October 1, 2022

पूर्व मंत्रीअमर अग्रवाल बोलें…अपराधियों के हौसले इस हद तक बुलंद हो गए हैं कि पुलिस, पत्रकार और अधिकारी भी सुरक्षित नहीं…

Must Read

पूर्व मंत्रीअमर अग्रवाल बोलें…अपराधियों के हौसले इस हद तक बुलंद हो गए हैं कि पुलिस, पत्रकार और अधिकारी भी सुरक्षित नहीं…

(संवादाता मोहम्मद रज्जब)

बिलासपुर। पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल ने शहर की कानून व्यवस्था के बिगड़ते हालात पर की गई प्रेस वार्ता में कहा कि आज जिस प्रकार से अपराध बढ़ रहे है, पूरी तरह कांग्रेस सरकार की ढुलमुल नीति जिम्मेवार है। न्यायधानी सहित पूरे प्रदेश में कांग्रेस राज में अपराधियों को संरक्षण देने का काम बखूबी हो रहा है। सत्ता संरक्षण में दिनों दिन अपराध बढ़ रहा है। कानून सुरक्षा व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई है। अपराध निवारण के लिए सजग एवम सक्रिय तंत्र का नितांत अभाव है। ऐसे में सवाल उठता है कि न्यायधानी की पहरेदारी में ही पुलिसिंग दोयम दर्जे की हो गई हो तो आम आदमी भला कैसे सुरक्षित महसूस करेगा। अचरज की बात यह है कि अपराधियों के हौसले इतने बुलंद हैं कि पुलिस का खौफ भी इनके मन में नहीं रहा।

पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल ने दोहराया सत्ताधारी दल के नेताओं के बीच बढ़ती गुटबाजी और आपसी प्रतिस्पर्धा से अपराधियों को संरक्षण देने की प्रवृति के कारण शांत शहर अपराधियों का गढ़ बन गया है। शहरवासियों के मन में असुरक्षा की भावना घर कर गई है। शहर में एक दिन भी ऐसा नहीं निकलता जब चोरी, लूट, हत्या और दुष्कर्म से लेकर चाकूबाजी की घटनाएं न हो।

More Articles Like This

पूर्व मंत्रीअमर अग्रवाल बोलें…अपराधियों के हौसले इस हद तक बुलंद हो गए हैं कि पुलिस, पत्रकार और अधिकारी भी सुरक्षित नहीं…

(संवादाता मोहम्मद रज्जब)

बिलासपुर। पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल ने शहर की कानून व्यवस्था के बिगड़ते हालात पर की गई प्रेस वार्ता में कहा कि आज जिस प्रकार से अपराध बढ़ रहे है, पूरी तरह कांग्रेस सरकार की ढुलमुल नीति जिम्मेवार है। न्यायधानी सहित पूरे प्रदेश में कांग्रेस राज में अपराधियों को संरक्षण देने का काम बखूबी हो रहा है। सत्ता संरक्षण में दिनों दिन अपराध बढ़ रहा है। कानून सुरक्षा व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई है। अपराध निवारण के लिए सजग एवम सक्रिय तंत्र का नितांत अभाव है। ऐसे में सवाल उठता है कि न्यायधानी की पहरेदारी में ही पुलिसिंग दोयम दर्जे की हो गई हो तो आम आदमी भला कैसे सुरक्षित महसूस करेगा। अचरज की बात यह है कि अपराधियों के हौसले इतने बुलंद हैं कि पुलिस का खौफ भी इनके मन में नहीं रहा।

पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल ने दोहराया सत्ताधारी दल के नेताओं के बीच बढ़ती गुटबाजी और आपसी प्रतिस्पर्धा से अपराधियों को संरक्षण देने की प्रवृति के कारण शांत शहर अपराधियों का गढ़ बन गया है। शहरवासियों के मन में असुरक्षा की भावना घर कर गई है। शहर में एक दिन भी ऐसा नहीं निकलता जब चोरी, लूट, हत्या और दुष्कर्म से लेकर चाकूबाजी की घटनाएं न हो।