अपराधछत्तीसगढ़

BSF के कमांडेंट को सीबीआई ने किया गिरफ्तार, सीमा पर पशु तस्करी में आया है नाम

Advertisement

भिलाई. भारत-बंग्लादेश सीमा पर पशु तस्करी मामले में सीबीआई ने मंगलवार को सीमा सुरक्षा बल के दुर्ग सेक्टर में पदस्थ बीएसएफ कमांडेंट सतीश कुमार को गिरफ्तार कर लिया है। इस मामले में कमांडेंट से पहले भी सीबीआई ने पूछताछ की थी। वहीं 23 सितंबर को बीएसएफ भिलाई स्थिति ऑफिस और निवास पर भी छापा मारा था। मिली जानकारी के अनुसार सीबीआई ने

कमांडेंट को पूछताछ के लिए साल्टलेक स्थित सीबीआई कार्यालय में बुलाया था। कमांडेंट के जवाब से सीबीआई संतुष्ट नहीं हुई जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है।

23 सितंबर को भिलाई पहुंची थी सीबीआई की टीम

सीबीआई ने भिलाई में छापा मारकर पशु तस्करी मामले में बीएसएफ के दुर्ग सेक्टर के कमांडेंट सतीश कुमार से 23 सितंबर को लगभग पांच घंटे पूछताछ की थी। सीबीआई ने सीमा सुरक्षा बल के कमांडेंट के अलावा तीन लोगों को इस मामले में आरोपी बनाया है। 23 सितंबर को सीबीआई ने देश के दस शहरों के 13 ठिकानों में एक साथ छापेमार कार्रवाई की थी।

मास्टर माइंड पहले ही हो चुका है गिरफ्तार
सीबीआई ने इस मामले में सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) की 36वीं बटालियन के तत्कालीन कमांडेंट सतीश कुमार के अलावा इनामुल हक, अनारुल शेख और मोहम्मद गुलाम मुस्तफा के खिलाफ मामला दर्ज किया है। जिसमें से मास्टर माइंड इनामुल हक की पहले ही गिरफ्तार हो चुकी है। सीमा सुरक्षा बल के कमांडेंट सतीश कुमार इस समय भिलाई के दुर्ग सेक्टर में पदस्थ हैं। वह गाजियाबाद के रहने वाले हैं।

गायों की तस्करी में आया है नाम
सीबीआई द्वारा दर्ज एफआईआर में लिखा है कि बीएसएफ कमांडेंट सतीश कुमार ने दिसंबर 2015 और अप्रैल 2017 के बीच पश्चिम बंगाल में 36वीं बटालियन की पोस्टिंग के दौरान 20 हजार से अधिक गायों को कथित तौर पर जब्त कर लिया। इससे पहले कि उन्हें बांग्लादेश पहुंचाया जा सके, लेकिन इसमें शामिल वाहनों को जब्त नहीं किया गया। इस मामले में सतीश का नाम सामने आया था। पशु तस्करी में पैसे के लेन देन में भी अधिकारी का नाम आया है।

Related Articles

Back to top button