अपराधछत्तीसगढ़बिलासपुर

खुद को क्राइम ब्रांच का अफसर बताकर लाखों की लूट के 7 आरोपी गिरफ्तार

Advertisement

6-नवम्बर 2020
[सवितर्क न्यूज़]-जांजगीर- खुद को क्राइम ब्रांच का अफसर बताकर बंदूक की नोक पर डकैती करने वाले सात आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है, और उनके पास से जेवरात, रकम और घटना में प्रयुक्त हथियार जब्त किया है।
घटना बाराद्वार थाना क्षेत्र की है। पीड़ित इतवरी कुर्रे ने थाने में शिकायत दर्ज करायी थी कि, 23 अक्टूबर को जब अपने परिवार के साथ घर में सो रहा था, उस दौरान रात करीब 11 से 12 बजे के बीच मास्क पहने हुये सात लोग घर में घुसे। आरोपी हाथ में पिस्टल रखे हुए थे और खुद को क्राइम ब्रांच का अफसर बता रहे थे। इस दौरान आरोपियों ने पीड़ित को कहा कि तुम अवैध शराब अपने घर में बनाते हो इसलिए पूरे घर की तलाशी लेनी होगी। तालाशी के दौरान आरोपियों नेे घर में रखे सोने चांदी के जेवरात और नगदी को अपने कब्जे में ले ली। साथ ही बंदूक दिखाकर पीड़ित इतवारी कुर्रे और उसके दामाद सुरज जुलाह को कार में बैठाकर अपने साथ ले गये, जिसके बाद आधे रास्ते में दोनों को उतारकर सुबह जांजगीर क्राइम ब्रांच ऑफिस आना कहकर मौके से फरार हो गये। घटना के बाद पीड़ित ने तत्काल इसकी जानकारी बाराद्वार पुलिस को दी।
मामले की शिकायत एसपी पारुल माथुर मिलने के बाद एडिशनल एसपी को आरोपियों की गिरफ्तारी के निर्देश दिये गए। पुलिस ने मौके पर लगे सभी सीसीटीवी और संदेहियों से पूछताछ शुरू की। जांच के दौरान पुलिस ने संदेह के आधार पर मालखरौदा निवासी मत्ती रात्रे और पुष्पेन्द्र सोनवानी को हिरासत में लेकर उनसे पूछताछ शुरू की गयी। दोनों ने पहले तो पुलिस को गुमराह किया, जिसके बाद जब इनसे कढ़ाई से पूछताछ की तो आरोपियों ने अपने अन्य पांच साथियों के साथ मिलकर डकैत करने की बात स्वीकार कर ली।
आरोपियों के द्वारा मिली जानकारी के बाद पुलिस ने पांच अन्य आरोपी ओमप्रकाश बर्मन थाना डभरा, अजय कश्यप थाना हसौद, तुलेश यादव हसौद, सतीश कुर्रे हसौद, टेकचंद चंद्रा सारागांव को गिरफ्तार किया गया। उनके पास से पुलिस ने सोने चांदी के जेवरात, देशी कटटा, पांच जोडी काम्बेट ड्रेस, टाटा सफारी, और 45 हजार नगदी सहित 9 लाख 87 हजार का माल जब्त किया है। आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जा रही है।

Related Articles

Back to top button