छत्तीसगढ़बिलासपुर

कलेक्टर सारांश मित्तर ने किया गौठानों का निरीक्षण!

Advertisement

गोधन न्याय योजना के सुचारू क्रियान्वयन के दिए दिशा निर्देश:-◆

22-अक्टूबर,2020

बिलासपुर {सवितर्क न्यूज़} कलेक्टर डाॅ. सारांश मित्तर ने आज बिल्हा विकासखंड के विभिन्न ग्रामों में गौठानों का निरीक्षण किया तथा वहां गोधन न्याय योजना के तहत गोबर खरीदी और वर्मी कम्पोस्ट खाद निर्माण का जायजा लेकर योजना के सुचारू क्रियान्वयन के निर्देश दिए।
कलेक्टर डाॅ. सारांश मित्तर ने बिल्हा विकासखंड के ग्राम पंचायत धौरामुड़ा के गौठान का मुआयना किया। यहां वर्मी कम्पोस्ट खाद निर्माण की प्रगति के संबंध में जानकारी ली। कलेक्टर को ग्राम पंचायत सचिव ने बताया कि जय मां सरस्वती स्व सहायता समूह द्वारा वर्मी कम्पोस्ट खाद का निर्माण किया जा रहा है। अभी तक 937 क्विंटल गोबर की खरीदी की गई है। यहां 24 वर्मी कम्पोस्ट टांके एवं 9 नाडेप टांके है। समूह द्वारा 33 क्विंटल खाद बनाया गया है। जिसमें से 18 क्विंटल खाद की ब्रिकी की गई है। खाद वन विभाग एवं उद्यानिकी विभाग द्वारा खरीदा गया है। कलेक्टर ने स्व-सहायता समूह की महिलाओं से कहा कि खाद बनाकर उसकी आकर्षक पैकेजिंग करें जिससे खाद की ब्रिकी अधिक से अधिक हो सके। उन्होंने स्वयं के स्तर पर भी खाद के प्रचार-प्रसार करने की बात भी कही। कलेक्टर ने कहा कि इसके लिए विभाग द्वारा आपकी हरसंभव मदद भी की जा रही है। उन्होंने महिलाओं से आग्रह किया कि आपको स्वयं पहल कर खाद की ब्रिकी करनी है। उन्होंने अधिकारियो को निर्देश दिये कि गोधन न्याय योजना के तहत सतत रूप से मानिटरिंग करते हुए योजना का क्रियान्वयन बेहतर तरीके से करे। इसी प्रकार ग्राम पंचायत सेलर के गोठान का भी कलेक्टर ने निरीक्षण किया। सेलर में 60 क्विंटल गोबर से खाद बनाने की प्रकिया जारी है। कलेक्टर ने यहां 5 एकड़ में बनाये जा रहे बाड़ी एवं उद्यानिकी विभाग द्वारा 8 एकड़ में प्रस्तावित नर्सरी का भी स्थल निरीक्षण किया।

धान खरीदी केन्द्र का निरीक्षण
कलेक्टर ने ग्राम पंचायत करमा के धान खरीदी केन्द्र में बनाये जा रहे चबूतरे का निरीक्षण किया। चबूतरों का निर्माण मनरेगा एवं 15 वें वित्त आयोग के कन्वरजेन्स से किया जा रहा है। इसकी लागत 6 लाख 8 हजार है। कलेक्टर ने कहा कि चबूतरों का निर्माण शासन की प्राथमिकता है एवं इसमे किसी प्रकार की भी लापरवाही बर्दाश्त नहीं कि जायेगी। उन्होंने चबूतरे में ढलान बनाने एवं फिनिशिंग का कार्य ठीक से करने के निर्देश संबंधित अधिकारियो को दिये।
निरीक्षण के दौरान जिला पंचायत के मुख्य कार्यापालन अधिकारी गजेन्द्र सिंह ठाकुर, कृषि विभाग के उप संचालक शशांक शिंदे, उद्यानिकी विभाग के अधिकारी एवं अन्य विभागीय अधिकारी मौजूद थे।

Related Articles

Back to top button