छत्तीसगढ़

ऋचा जोगी की जाति मामले पर सुनवाई 7 दिन टली!

Advertisement

कांग्रेस पर प्रमाणपत्र निलंबित कराने का लगाया था आरोप!

23-नवम्बर, 2020
बिलासपुर-[सवितर्क न्यूज़] छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस (JCCJ) अध्यक्ष अमित जोगी की पत्नी ऋचा जोगी की जाति मामले पर हाईकोर्ट में सुनवाई एक सप्ताह आगे बढ़ गई है। ऋचा के अधिवक्ता गैरी मुखोपाध्याय ने न्यायालय से दिल्ली के वरिष्ठ अधिवक्ता के सुनवाई में पैरवी करने की जानकारी दी। साथ ही एक सप्ताह का समय मांगा, जिसे कोर्ट ने स्वीकार कर लिया। इससे पहले सोमवार से लगातार सुनवाई होनी थी।
दरअसल, मरवाही उपचुनाव में नामांकन खारिज किए जाने की लड़ाई अब कोर्ट तक पहुंच चुकी है। ऋचा जोगी ने याचिका दायर कर छत्तीसगढ़ राज्य अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग नियम 2013 में सितंबर-अक्टूबर 2020 में हुए अनु संशोधन और जिला समिति के नोटिस को चुनौती दी है।
JCCJ अध्यक्ष अमित जोगी की पत्नी ऋचा जोगी की याचिका में बताया गया है कि साल 1950 के पहले से उनके पूर्वज मुंगेली के पास ग्राम पेंड्री में निवास करते आए हैं। दस्तावेजों में उनकी गोंड जाति दर्ज है। मामले की सुनवाई चीफ जस्टिस पीआर रामचंद्र मेनन और जस्टिस पीपी साहू की डिवीजन बेंच में होगी। ऋचा जोगी ने कांग्रेस पर विद्वेष की भावना का आरोप लगाया है।

Related Articles

Back to top button