Sunday, October 2, 2022

ग्राम स्तर पर गरीबी उन्मूलन की बन रही योजना ….महिलाओं का जीवन स्तर उपर उठाने में महत्तवपूर्ण भूमिका

Must Read

ग्राम स्तर पर गरीबी उन्मूलन की बन रही योजना ….महिलाओं का जीवन स्तर उपर उठाने में महत्तवपूर्ण भूमिका

ब्यूरो रिपोर्ट सिरोज विश्वकर्मा

बीजापुर-राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन से जुड़कर जिले में ग्रामीण गरीब महिलाएं अपनी आजीविका संवंर्धन कर रही हैं, इस योजना ने क्षेत्र में ग्रामीण महिलाओं का जीवन स्तर उपर उठाने में महत्तवपूर्ण भूमिका निभाई हैं। जिले के सुदूर क्षेत्र में महिलाएं बिहान मार्ट, तार फेसिंग, ईट निर्माण, गौठान प्रबंधन, मुर्गी पालन, अण्डा उत्पादन, बकरी पालन जैसी आजीविका मूलक गतिविधियों का सफल संचालन कर रही हैं। इसी कड़ी में योजनांतर्गत जिले में ग्राम गरीबी उन्मूलन योजना तैयार की जा रही है। योजना में कार्य करने वाले जमीनी अमलों की मदद से स्व- सहायता समूह और संगठन स्तर पर प्रत्येक समूह के लिए भिन्न-भिन्न कार्ययोजना तैयार किये जाएंगे। जिला पंचायत मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री रवि कुमार साहू ने बताया कि कलेक्टर श्री राजेन्द्र कटारा के मार्गदर्शन में ग्राम गरीबी उन्मूलन योजना तैयार करने के लिए योजनांतर्गत कार्य करने वाले जमीनी स्तर के अधिकारी कर्मचारियों को निर्देशित किया गया है, जिन्हें प्रशिक्षण प्रदान कर क्षेत्र में ग्रामीण महिलाओं को स्व सहायता समूह से जोड़कर उनका जीवन स्तर उठाने आजीविका मूलक गतिविधि से जोड़ना है। प्रत्येक स्व सहायता समूह एवं ग्राम संगठन द्वारा ग्राम गरीबी उन्मूलन योजना (वीपीआरपी) तैयार कर इसका ग्राम पंचायत स्तर पर समेकित कर कार्ययोजना तैयार करना है। उक्त तैयार वीपीआरपी को 2 अक्टूबर को आयोजित होने वाली ग्राम सभा में प्रतुतिकरण के बाद ग्राम पंचायत के जीपीडीपी अर्थात ग्राम पंचायत विकास योजना में समावेश करवाया जावेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

More Articles Like This

ग्राम स्तर पर गरीबी उन्मूलन की बन रही योजना ….महिलाओं का जीवन स्तर उपर उठाने में महत्तवपूर्ण भूमिका

ब्यूरो रिपोर्ट सिरोज विश्वकर्मा

बीजापुर-राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन से जुड़कर जिले में ग्रामीण गरीब महिलाएं अपनी आजीविका संवंर्धन कर रही हैं, इस योजना ने क्षेत्र में ग्रामीण महिलाओं का जीवन स्तर उपर उठाने में महत्तवपूर्ण भूमिका निभाई हैं। जिले के सुदूर क्षेत्र में महिलाएं बिहान मार्ट, तार फेसिंग, ईट निर्माण, गौठान प्रबंधन, मुर्गी पालन, अण्डा उत्पादन, बकरी पालन जैसी आजीविका मूलक गतिविधियों का सफल संचालन कर रही हैं। इसी कड़ी में योजनांतर्गत जिले में ग्राम गरीबी उन्मूलन योजना तैयार की जा रही है। योजना में कार्य करने वाले जमीनी अमलों की मदद से स्व- सहायता समूह और संगठन स्तर पर प्रत्येक समूह के लिए भिन्न-भिन्न कार्ययोजना तैयार किये जाएंगे। जिला पंचायत मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री रवि कुमार साहू ने बताया कि कलेक्टर श्री राजेन्द्र कटारा के मार्गदर्शन में ग्राम गरीबी उन्मूलन योजना तैयार करने के लिए योजनांतर्गत कार्य करने वाले जमीनी स्तर के अधिकारी कर्मचारियों को निर्देशित किया गया है, जिन्हें प्रशिक्षण प्रदान कर क्षेत्र में ग्रामीण महिलाओं को स्व सहायता समूह से जोड़कर उनका जीवन स्तर उठाने आजीविका मूलक गतिविधि से जोड़ना है। प्रत्येक स्व सहायता समूह एवं ग्राम संगठन द्वारा ग्राम गरीबी उन्मूलन योजना (वीपीआरपी) तैयार कर इसका ग्राम पंचायत स्तर पर समेकित कर कार्ययोजना तैयार करना है। उक्त तैयार वीपीआरपी को 2 अक्टूबर को आयोजित होने वाली ग्राम सभा में प्रतुतिकरण के बाद ग्राम पंचायत के जीपीडीपी अर्थात ग्राम पंचायत विकास योजना में समावेश करवाया जावेगा।