Sunday, October 2, 2022

पर्यटकों के लिए खुला आकाश नगर का द्वार:विश्वकर्मा पूजा के दिन बैलाडीला की खूबसूरत वादियों का उठाएंगे लुत्फ, साल में एक दिन जाने की दी जाती है अनुमति

Must Read

पर्यटकों के लिए खुला आकाश नगर का द्वार:विश्वकर्मा पूजा के दिन बैलाडीला की खूबसूरत वादियों का उठाएंगे लुत्फ, साल में एक दिन जाने की दी जाती है अनुमति

ब्यूरो रिपोर्ट चांपा मरकाम

छ्त्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में आज विश्वकर्मा पूजा के दिन NMDC आकाश नगर का द्वार आम नागरिकों के लिए खोल दिया गया है। बैलाडीला की खूबसूरत वादियों का लुत्फ उठाने पर्यटक सुबह से ही पहुंच रहे हैं। हालांकि, सुरक्षा को देखते हुए इस बार भी पहाड़ियों में बाइक ले जाने की अनुमति नहीं दी गई है। कार या अन्य वहानों के लिए अनुमति दी गई है। बैलाडीला की हसीन वादियों का लुत्फ उठाने पर्यटकों का हुजूम उमड़ पड़ा है।

बचेली NMDC प्लांट।

दरअसल, बैलाडीला की पहाड़ियां NMDC के अंडर में है। यहां सालभर लौह उत्खनन का काम चलता रहता है। खदान में बड़ी-बड़ी डंपर वाहनें भी दौड़ती हैं, ब्लास्टिंग की जाती है। ऐसे में सामान्य दिन में आम नागरिकों के लिए यहां आने की अनुमति नहीं होती है। लेकिन, साल में 17 सितंबर विश्वकर्मा पूजा के दिन प्लांट बंद रहता है। लोगों के लिए आकाश नगर का द्वार सिर्फ एक दिन के लिए खोल दिया जाता है। इस बार भी पर्यटकों की जबरदस्त भीड़ देखने को मिल रही है।

पहाड़ी रास्तों को पार करना पड़ता है।

NMDC के अधिकारियों ने बताया कि, दोपहर 1 बजे के बाद CISF चेक पोस्ट के अंदर प्रवेश वर्जित होगा। पर्यटकों से कहा गया है कि सुबह से जो लोग पहाड़ी पर गए हैं वे शाम 4 से 5 बजे तक लौट आएं। सुरक्षा में भी जवान तैनात किए गए हैं। पर्यटक रास्ता न भटकें इसलिए NMDC के अफसर और कर्मचारी भी खुद जगह-जगह पर लोगों की मदद करने खड़े हैं।

More Articles Like This

पर्यटकों के लिए खुला आकाश नगर का द्वार:विश्वकर्मा पूजा के दिन बैलाडीला की खूबसूरत वादियों का उठाएंगे लुत्फ, साल में एक दिन जाने की दी जाती है अनुमति

ब्यूरो रिपोर्ट चांपा मरकाम

छ्त्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में आज विश्वकर्मा पूजा के दिन NMDC आकाश नगर का द्वार आम नागरिकों के लिए खोल दिया गया है। बैलाडीला की खूबसूरत वादियों का लुत्फ उठाने पर्यटक सुबह से ही पहुंच रहे हैं। हालांकि, सुरक्षा को देखते हुए इस बार भी पहाड़ियों में बाइक ले जाने की अनुमति नहीं दी गई है। कार या अन्य वहानों के लिए अनुमति दी गई है। बैलाडीला की हसीन वादियों का लुत्फ उठाने पर्यटकों का हुजूम उमड़ पड़ा है।

बचेली NMDC प्लांट।

दरअसल, बैलाडीला की पहाड़ियां NMDC के अंडर में है। यहां सालभर लौह उत्खनन का काम चलता रहता है। खदान में बड़ी-बड़ी डंपर वाहनें भी दौड़ती हैं, ब्लास्टिंग की जाती है। ऐसे में सामान्य दिन में आम नागरिकों के लिए यहां आने की अनुमति नहीं होती है। लेकिन, साल में 17 सितंबर विश्वकर्मा पूजा के दिन प्लांट बंद रहता है। लोगों के लिए आकाश नगर का द्वार सिर्फ एक दिन के लिए खोल दिया जाता है। इस बार भी पर्यटकों की जबरदस्त भीड़ देखने को मिल रही है।

पहाड़ी रास्तों को पार करना पड़ता है।

NMDC के अधिकारियों ने बताया कि, दोपहर 1 बजे के बाद CISF चेक पोस्ट के अंदर प्रवेश वर्जित होगा। पर्यटकों से कहा गया है कि सुबह से जो लोग पहाड़ी पर गए हैं वे शाम 4 से 5 बजे तक लौट आएं। सुरक्षा में भी जवान तैनात किए गए हैं। पर्यटक रास्ता न भटकें इसलिए NMDC के अफसर और कर्मचारी भी खुद जगह-जगह पर लोगों की मदद करने खड़े हैं।