Wednesday, May 25, 2022

लोनिवि की कमीशनखोरी की भेंट चढ़ गई उसूर सड़क… पूर्व मंत्री महेश गागड़ा ने लगाया आरोप,,, घटिया निर्माण के खिलाफ थाने में दर्ज कराई प्राथमिकी…

Must Read

लोनिवि की कमीशनखोरी की भेंट चढ़ गई उसूर सड़क… पूर्व मंत्री महेश गागड़ा ने लगाया आरोप,,,घटिया निर्माण के खिलाफ थाने में दर्ज कराई प्राथमिकी…

( संवाददाता सिरोज विश्वकर्मा)

बीजापुर। करोड़ो की लागत वाली उसूर ब्लाक मुख्यालय आवापल्ली से उसूर को जोड़ती सड़क की जीर्ण अवस्था को लेकर बुधवार को भाजपाईयों ने पूर्व मंत्री महेश गागड़ा के नेतृत्व में आवापल्ली थाने पहुंचकर लोनिवि समेत संबंधित कंस्ट्रक्शन कंपनी के खिलाफ प्राथमिक दर्ज करवाई । इस संबंध में भाजपा जिला अध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार ने कहा कि पुलिस इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं करती है तो उस दशा में भाजपा जनहित के इस मुद्दे को लेकर न्यायालय की शरण में जरूर जाएगी। थाने जाने से पहले पूर्व मंत्री महेश गागड़ा, जिला अध्यक्ष मुदलियार समेत भाजपा पदाधिकारी-कार्यकर्ता आवापल्ली-उसूर सड़क का जायजा लेने पहुंचे।

जिसके बाद पत्रकारों से चर्चा करते पूर्व मंत्री ने सड़क की दुर्दशा के लिए लोनिवि समेत विधायक विक्रम मंडावी को आड़े हाथों लेते कहा कि कमीशनखोरी के चलते आवापल्ली को उसूर से जोड़ती सड़क निर्माण के सालभर के भीतर उखड गई। इसमे चरम भ्रष्टाचार की बात से इनकार नही किया जा सकता। गगड़ा ने कहा कि बीते वर्ष भी भाजपा ने इसी मुद्दे को लेकर स्थानीय प्रशासन का ध्यानाकर्षण कराया था, बावजूद विधायक-निर्माण एजेंसी की कमीशनखोरी ने उसूर वासियों की उम्मीदों पर पानी फेर दिया। इसके लिए विधायक, निर्माण एजेंसी लोनिवि और संबंधित कंस्ट्रक्शन कंपनी तीनों जिम्मेदार है। अब इस मुद्दे को लेकर भाजपा आगे बड़ी लड़ाई लड़ेगी।

More Articles Like This

लोनिवि की कमीशनखोरी की भेंट चढ़ गई उसूर सड़क… पूर्व मंत्री महेश गागड़ा ने लगाया आरोप,,,घटिया निर्माण के खिलाफ थाने में दर्ज कराई प्राथमिकी…

( संवाददाता सिरोज विश्वकर्मा)

बीजापुर। करोड़ो की लागत वाली उसूर ब्लाक मुख्यालय आवापल्ली से उसूर को जोड़ती सड़क की जीर्ण अवस्था को लेकर बुधवार को भाजपाईयों ने पूर्व मंत्री महेश गागड़ा के नेतृत्व में आवापल्ली थाने पहुंचकर लोनिवि समेत संबंधित कंस्ट्रक्शन कंपनी के खिलाफ प्राथमिक दर्ज करवाई । इस संबंध में भाजपा जिला अध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार ने कहा कि पुलिस इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं करती है तो उस दशा में भाजपा जनहित के इस मुद्दे को लेकर न्यायालय की शरण में जरूर जाएगी। थाने जाने से पहले पूर्व मंत्री महेश गागड़ा, जिला अध्यक्ष मुदलियार समेत भाजपा पदाधिकारी-कार्यकर्ता आवापल्ली-उसूर सड़क का जायजा लेने पहुंचे।

जिसके बाद पत्रकारों से चर्चा करते पूर्व मंत्री ने सड़क की दुर्दशा के लिए लोनिवि समेत विधायक विक्रम मंडावी को आड़े हाथों लेते कहा कि कमीशनखोरी के चलते आवापल्ली को उसूर से जोड़ती सड़क निर्माण के सालभर के भीतर उखड गई। इसमे चरम भ्रष्टाचार की बात से इनकार नही किया जा सकता। गगड़ा ने कहा कि बीते वर्ष भी भाजपा ने इसी मुद्दे को लेकर स्थानीय प्रशासन का ध्यानाकर्षण कराया था, बावजूद विधायक-निर्माण एजेंसी की कमीशनखोरी ने उसूर वासियों की उम्मीदों पर पानी फेर दिया। इसके लिए विधायक, निर्माण एजेंसी लोनिवि और संबंधित कंस्ट्रक्शन कंपनी तीनों जिम्मेदार है। अब इस मुद्दे को लेकर भाजपा आगे बड़ी लड़ाई लड़ेगी।