Wednesday, May 25, 2022

माता परमेश्वरी महोत्सव के अंतिम दिन निकाली भव्य शोभायात्रा,,,

Must Read

माता परमेश्वरी महोत्सव के अंतिम दिन निकाली भव्य शोभायात्रा,,,

मुंगेली। देवांगन समाज द्वारा पांच दिवसीय माता परमेश्वरी महोत्सव और महापुराण कथा का भव्य आयोजन किया गया। इसका समापन रविवार को हवन पूजन के बाद विशाल शोभायात्रा झांकी निकालकर की गई। इसमें बड़ी संख्या में समाज के लोगों के साथ-साथ महिलाओं और बच्चों की उपस्थिति उल्लेखनीय रही। शोभायात्रा में देवांगन समाज के बालिकाओं द्वारा कलश यात्रा भी निकाली गई।

झांकी के साथ माता परमेश्वरी की मूर्ति झांकी और जसगीत आदिवासी लोक नृत्य सम्मिलित हुए। देवांगन समाज का परमेश्वरी महोत्सव प्रसिद्ध रहा है, जिसमें देश व प्रदेश लोग शामिल होते हैं। शोभायात्रा का स्वागत कई समाज द्वारा जगह-जगह स्वागत किया गया। जिसमें भक्तों को रास्ते भर प्रसाद व खाने-पीने की सामग्री बांटी गई। वहीं कुछ जगहों पर चाय भी बांटा गया। देवांगन समाज द्वारा पाॅच दिवसीय माता परमेश्वरी महोत्सव और महापुराण कथा का आयोजन देवांगन मोहल्ला भट्टबाड़ा में किया गया। पाॅच दिनों तक चले इस आयोजन में भक्तों द्वारा माता की विशेष पूजा-अर्चना व कथावाचक किशनराव चाम्पा वाले द्वारा प्रतिदिन माता परमेश्वरी की कथा का वाचन किया गया।

इसका भक्तों ने भक्तिपूर्ण भाव से सुना। कार्यक्रम में विभिन्न प्रतियोगिता और रात में माता का जगराता का आयोजन किया गया जो पूरी रात तक चलता रहा। पांच दिनों तक देवांगन भक्त माता परमेश्वरी की भक्ति में लीन रहे। महोत्सव के अंतिम दिन शोभायात्रा देवांगन मोहल्ले से प्रारंभ होकर बालानी चाौक, गोल बाजार चाौक, सदर बाजार, पुराना बस स्टैंड, पड़ाव चाौक सहित नगर के प्रमुख मार्गों से होते हुए कार्य म स्थल में जाकर संपन्न हुआ। नगर में निकली यह विशाल शोभायात्रा में छोटी-छोटी बालिकाओं के द्वारा कलश यात्रा सहित बड़ी संख्या में महिलाएं शामिल रहे। इस दौरान पुरुषों के अलावा युवाओं में खासा उत्साह नजर आया।

अनुशासित ढंग से निकली यह शोभायात्रा में व्यवस्थाओं की कमान पुलिस व युवाओं को संभाले रखा था। शोभायात्रा के बाद माता परमेश्वरी की मूर्ति को पूजा अर्चना कर विसर्जित किया गया। रात्रि में विशाल भंडारे का आयोजन किया गया। महोत्सव के अंतिम दिन समाज के लोगों ने अपने- अपने प्रतिष्ठान बंद कर कार्यक्रम में सम्मिलित हुए। अंतिम दिवस सुबह युवाओं द्वारा बाइक रैली निकाली गई। जो नगर के विभिन्न मार्गों से होते हुए कार्यक्रम स्थल पहुंची।

सुबह हवन-पूजा पाठ कन्या भोज के पश्चात् विशाल शोभायात्रा निकाली गई। जिसमें कुंवारी कन्याओं के द्वारा कलश यात्रा निकाली गई। बड़ी संख्या में कन्याएं सिर पर कलश रखकर चल रही थी। शोभायात्रा में जसगीत, आदिवासी लोक नृत्य दल के साथ नगर सहित आसपास के पहुंचे सामाजिक महिलाएं, पुरूष व बच्चे शामिल हुए। इस दौरान देवांगन समाज के अध्यक्ष श्री आनंद देवांगन (अधिवक्ता) ने सफल आयोजन के लिए सभी समाज के लोगों के प्रति अभार व्यक्त करते हुए धन्यवाद दिया। इस अवसर पर नवयुवक देवांगन समाज के अध्यक्ष श्री दुर्गेश देवांगन, सहित बड़ी संख्या में माता परमेश्वरी की अनुयायी उपस्थित थे।

More Articles Like This

माता परमेश्वरी महोत्सव के अंतिम दिन निकाली भव्य शोभायात्रा,,,

मुंगेली। देवांगन समाज द्वारा पांच दिवसीय माता परमेश्वरी महोत्सव और महापुराण कथा का भव्य आयोजन किया गया। इसका समापन रविवार को हवन पूजन के बाद विशाल शोभायात्रा झांकी निकालकर की गई। इसमें बड़ी संख्या में समाज के लोगों के साथ-साथ महिलाओं और बच्चों की उपस्थिति उल्लेखनीय रही। शोभायात्रा में देवांगन समाज के बालिकाओं द्वारा कलश यात्रा भी निकाली गई।

झांकी के साथ माता परमेश्वरी की मूर्ति झांकी और जसगीत आदिवासी लोक नृत्य सम्मिलित हुए। देवांगन समाज का परमेश्वरी महोत्सव प्रसिद्ध रहा है, जिसमें देश व प्रदेश लोग शामिल होते हैं। शोभायात्रा का स्वागत कई समाज द्वारा जगह-जगह स्वागत किया गया। जिसमें भक्तों को रास्ते भर प्रसाद व खाने-पीने की सामग्री बांटी गई। वहीं कुछ जगहों पर चाय भी बांटा गया। देवांगन समाज द्वारा पाॅच दिवसीय माता परमेश्वरी महोत्सव और महापुराण कथा का आयोजन देवांगन मोहल्ला भट्टबाड़ा में किया गया। पाॅच दिनों तक चले इस आयोजन में भक्तों द्वारा माता की विशेष पूजा-अर्चना व कथावाचक किशनराव चाम्पा वाले द्वारा प्रतिदिन माता परमेश्वरी की कथा का वाचन किया गया।

इसका भक्तों ने भक्तिपूर्ण भाव से सुना। कार्यक्रम में विभिन्न प्रतियोगिता और रात में माता का जगराता का आयोजन किया गया जो पूरी रात तक चलता रहा। पांच दिनों तक देवांगन भक्त माता परमेश्वरी की भक्ति में लीन रहे। महोत्सव के अंतिम दिन शोभायात्रा देवांगन मोहल्ले से प्रारंभ होकर बालानी चाौक, गोल बाजार चाौक, सदर बाजार, पुराना बस स्टैंड, पड़ाव चाौक सहित नगर के प्रमुख मार्गों से होते हुए कार्य म स्थल में जाकर संपन्न हुआ। नगर में निकली यह विशाल शोभायात्रा में छोटी-छोटी बालिकाओं के द्वारा कलश यात्रा सहित बड़ी संख्या में महिलाएं शामिल रहे। इस दौरान पुरुषों के अलावा युवाओं में खासा उत्साह नजर आया।

अनुशासित ढंग से निकली यह शोभायात्रा में व्यवस्थाओं की कमान पुलिस व युवाओं को संभाले रखा था। शोभायात्रा के बाद माता परमेश्वरी की मूर्ति को पूजा अर्चना कर विसर्जित किया गया। रात्रि में विशाल भंडारे का आयोजन किया गया। महोत्सव के अंतिम दिन समाज के लोगों ने अपने- अपने प्रतिष्ठान बंद कर कार्यक्रम में सम्मिलित हुए। अंतिम दिवस सुबह युवाओं द्वारा बाइक रैली निकाली गई। जो नगर के विभिन्न मार्गों से होते हुए कार्यक्रम स्थल पहुंची।

सुबह हवन-पूजा पाठ कन्या भोज के पश्चात् विशाल शोभायात्रा निकाली गई। जिसमें कुंवारी कन्याओं के द्वारा कलश यात्रा निकाली गई। बड़ी संख्या में कन्याएं सिर पर कलश रखकर चल रही थी। शोभायात्रा में जसगीत, आदिवासी लोक नृत्य दल के साथ नगर सहित आसपास के पहुंचे सामाजिक महिलाएं, पुरूष व बच्चे शामिल हुए। इस दौरान देवांगन समाज के अध्यक्ष श्री आनंद देवांगन (अधिवक्ता) ने सफल आयोजन के लिए सभी समाज के लोगों के प्रति अभार व्यक्त करते हुए धन्यवाद दिया। इस अवसर पर नवयुवक देवांगन समाज के अध्यक्ष श्री दुर्गेश देवांगन, सहित बड़ी संख्या में माता परमेश्वरी की अनुयायी उपस्थित थे।